KCR के खिलाफ गरजे नड्डा, कहा- ये प्रजातंत्र है, जनता दमन को इतिहास के कूड़ेदान में दफन कर देती है

Date:


Nadda Telangana

ANI

नड्डा ने कहा कि केसीआर हमेशा कहते हैं कि तेलंगाना सबसे अमीर राज्य है, लेकिन मैं उन्हें सही करना चाहता हूं। याद रखें कि आपने इसे एक गरीब और कर्जदार राज्य बना दिया है। अपना हमला जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि KCR नहीं चाहते कि ‘लिबरेशन डे’ मनाया जाए, क्योंकि ओवैसी के साथ संबंध बना कर रखते हैं।

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव संपन्न होने के बाद भाजपा अब अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। अगले साल कर्नाटक और तेलंगाना का चुनाव भाजपा के लिए काफी अहम है। यही कारण है कि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा आज तेलंगाना के करीमनगर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर जबरदस्त तरीके से निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि सीएम केसीआर की सरकार प्रजातंत्र का गला घोट रही है। उन्होंने अभी जब मैं आ रहा था तब TRS के लोगों ने मेरी यात्रा को रोकने का प्रयास किया। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि केसीआर को मैं बता देना चाहता हूं कि ये प्रजातंत्र है, यहां जनता दमन को प्रजातंत्र के अंदर इतिहास के कूड़ेदान में दफन कर देती है। 

नड्डा ने कहा कि केसीआर हमेशा कहते हैं कि तेलंगाना सबसे अमीर राज्य है, लेकिन मैं उन्हें सही करना चाहता हूं। याद रखें कि आपने इसे एक गरीब और कर्जदार राज्य बना दिया है। अपना हमला जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि KCR नहीं चाहते कि ‘लिबरेशन डे’ मनाया जाए, क्योंकि ओवैसी के साथ संबंध बना कर रखते हैं। तेलंगाना का इतिहास, हम जानते हैं रजाकार की क्रूरता, हम जानते हैं किस तरह से उन्होंने समाज को बांटने का प्रयास किया। उन्होंने सवाल किया कि क्या वजह है कि उनकी बेटी को जांच एजेंसियों ने तलब किया है? केसीआर भले ही इस बात से नाराज़ हो रहे हों, लेकिन यह उनके गले तक गहरे भ्रष्ट आचरण के कारण है।

भाजपा अध्यक्ष ने तंज कसते हुए कहा कि टीआरएस अब बीआरएस बन गई है और आने वाले दिनों में यह वीआरएस बन जाएगी। अगर भ्रष्टाचार की बात करूं तो बड़े स्तर पर के चंद्रशेखर राव कर रहे हैं और सूक्ष्म स्तर पर उनके मंत्री कर रहे हैं। उन्होंने दावाकिया कि भू-राजस्व से लेकर स्थानीय निकायों तक केसीआर सरकार के भ्रष्ट आचरण। तेलंगाना के लोगों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। सत्ता में आने के बाद केसीआर अपने सारे वादे भूल गए। वादे के मुताबिक गरीबों के लिए 2 बेडरूम का घर बनाने में नाकाम रहे और इसके बदले खुद के लिए एक फार्महाउस बना लिया। इतना ही नहीं, किसानों को भी धोखा दिया गया क्योंकि वे अभी भी एकमुश्त कर्जमाफी का इंतजार कर रहे हैं, जबकि हमारे अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के भाई क्रमश: 2 और 3 एकड़ जमीन का इंतजार कर रहे हैं, जिसे केसीआर भूल गए हैं।

अन्य न्यूज़





www.prabhasakshi.com

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: www.prabhasakshi.com

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related