भाजपा नेता ने लगाया माध्यमिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक पर भ्रष्टाचार का आरोप

Date:


भाजपा की अयोध्या इकाई के प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी रजनीश सिंह ने बृहस्पतिवार को पीटीआई- को बताया कि अयोध्या में माध्यमिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक अरविंद पांडे बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार में शामिल हैं और अयोध्या में उनका एक लग्जरी होटल, बाराबंकी में डिग्री कॉलेज और अनेक स्थानों पर बेनामी जमीन हैं।

अयोध्या के एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने जिले में तैनात माध्यमिक शिक्षा विभाग के एक संयुक्त निदेशक पर बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए इस सिलसिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की है। उन्होंने साथ ही, इस मामले की सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से जांच कराने की मांग भी की है।
भाजपा की अयोध्या इकाई के प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी रजनीश सिंह ने बृहस्पतिवार को पीटीआई- को बताया कि अयोध्या में माध्यमिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक अरविंद पांडे बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार में शामिल हैं और अयोध्या में उनका एक लग्जरी होटल, बाराबंकी में डिग्री कॉलेज और अनेक स्थानों पर बेनामी जमीन हैं।

सिंह ने बताया कि उन्होंने इस सिलसिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक शिकायती पत्र भेजा है जिसमें आरोप लगाया गया है कि पांडे ने भ्रष्ट तरीके से की गई कमाई से अयोध्या में एक लग्जरी होटल बनवाया है और उसे वह बेनामी तरीके से चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा बाराबंकी में पांडे का एक डिग्री कॉलेज है और बाराबंकी तथा अयोध्या जिलों में अनेक भूखंड भी हैं, वे सब भी बेनामी ही हैं।
सिंह ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में इस बात का भी जिक्र किया है कि पांडे के खिलाफ 2015 में सतर्कता जांच का आदेश दिया गया था लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों और जांच एजेंसियों के साथ सांठगांठ कर पांडे ने उस मामले को ठंडे बस्ते में डलवा दिया था।

उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वह इस मामले की सीबीआई या प्रवर्तन निदेशालय से जांच कराएं।
इन आरोपों के बारे में पूछे जाने पर पांडे ने कहा कि उन पर लगाए गए तमाम आरोप राजनीति से प्रेरित हैं।
उन्होंने कहा मेरी पत्नी ममता पांडे भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश सचिव हैं और वह अयोध्या के महापौर का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं। मेरे खिलाफ मुख्यमंत्री से की गई शिकायत राजनीति से प्रेरित है।
अयोध्या में लग्जरी होटल में हिस्सेदारी से जुड़े सवाल पर पांडे ने कहा, मेरी पत्नी होटल में साझीदार हैं।

होटल का ज्यादातर हिस्सा मेरे परिवार के लोगों का है और इस होटल का निर्माण राज्य सरकार की पर्यटन नीति के तहत मिली मदद से कराया गया है। इस होटल के लिए सरकार ने अनुदान दिया है और हमने इसका नक्शा अनुमोदित कराने के लिए अयोध्या विकास प्राधिकरण को एक पैसा भी नहीं चुकाया है। इस होटल में करीब 25 लोग साझीदार हैं।
बाराबंकी में डिग्री कॉलेज के बारे में पांडे ने कहा, कोई भी शिक्षण संस्थान कभी किसी व्यक्ति का नहीं होता, क्योंकि ऐसे संस्थान का संचालन कोई ट्रस्ट या सोसाइटी ही करती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।





www.prabhasakshi.com

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: www.prabhasakshi.com

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related