Suresh Oberoi Birthday: पाकिस्तान में जन्मे, बंटवारे का झेला दर्द, बॉलीवुड में पाई कामयाबी; जानिए असली नाम

Date:


मुंबई: अपने दौर में सुरेश ओबेरॉय (Suresh Oberoi) का नाम जाने माने अभिनेताओं में शुमार था. दशकों पहले सुरेश ओबेरॉय एक्टिंग में करियर बनाने का सपना लेकर मुंबई आए थे. अपनी भारी भरकम आवाज और गजब के अभिनय के दम पर उन्होंने दर्शकों के दिलों पर सालों राज किया है. अपने हर किरदार से उन्होंने दर्शकों के दिल पर एक अलग छाप छोड़ी है. आज यानी 17 दिसंबर को सुरेश ओबेरॉय अपना 76 वां जन्‍मदिन मना रहे हैं. उनके जन्मदिन के मौके पर जानिए, उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ खास पहलुओं के बारे में.

सुरेश ओबेरॉय भले ही आज फिल्मों से दूर हैं लेकिन अपने दौर में उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्में की हैं. लेकिन उनके निभाए कुछ दमदार किरदारों की वजह से आज भी उन्हें विलेन के तौर पर ही याद किया जाता है. अपने दौर में उन्होंने कई स्टार्स को मात दी. फिलहाल वह एक्टिंग की दुनिया से दूर अपनी फैमिली के साथ टाइम स्पेंड कर रहे हैं.

इस फिल्म से की अभिनय सफर की शुरुआत
सुरेश ओबेरॉय ने फिल्मों से अपने करियर की शुरुआत नहीं की थी, बल्कि उन्होंने तो रेडियो शो से अपने सपने पूरे करने की शुरुआत की थी. इसके बाद में उन्होंने मॉडलिंग की और फिर अपना हुनर आजमाने मायानगरी चले आए. सुरेश ओबेरॉय ने अपना एक्टिंग का सपना पूरा किया साल 1977 में रिलीज हुई फिल्म ‘जीवन मुक्त’ से. इस फिल्म से उन्होंने अपने अभिनय सफर की शुरुआत की थी.

सोहेल खान से चारू असोपा तक, 2022 में चर्चित रहे इन 5 सितारों के तलाक, फैंस को नहीं हुआ यकीन

आसान नहीं था एक्टिंग में करियर बनाना
सुरेश ओबेरॉय को आज भले ही उनके विलेन वाली भूमिकाओं के लिए जाना जाता हो, लेकिन अपने अभिनय सफर में उन्होंने बहुत से नॉर्मल रोल भी किए हैं. हिंदी सिनेमा की ऐसी कई फिल्में हैं जिनमें उनके किरदार में बहुत ठहराव नजर आया है. उनके निभाए उन किरदारों को लोग आज भी भूल नहीं पाए हैं. लेकिन इस शोहरत वाली दुनिया में सुरेश के लिए जगह बनाना आसान नहीं था. अपने एक इंटरव्‍यू में सुरेश ओबेरॉय ने खुद खुलासा किया था कि वह महज 400 रुपये लेकर अपने सपनों को पूरा करने मुंबई आए थे. यहां एक खास बात ये है कि शायद ही कोई जानता हो कि उनका असली नाम सुरेश ओबेरॉय नहीं है, उनका असली नाम ‘विशाल कुमार ओबेरॉय’ हैं.

इन फिल्मों में किया दमदार अभिनय
अपने दमदार अभिनय के लिए सुरेश ओबेरॉय को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से भी सम्‍मानित किया जा चुका है. उन्हें साल 1987 में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का नेशनल अवॉर्ड दिया गया था. अपने करियर में उन्होंने सोल्जर, सफारी, गदर एक प्रेम कथा, लज्जा, प्यार तूने क्या किया और कबीर सिंह जैसी कई ऐसी फिल्में की है. जिनमें उनके काम को काफी सराहा गया.

बता दें कि सुरेश ओबेरॉय साल 1974 में यशोधरा संग शादी के बंधन बंध गए थे. उनके बेटे विवेक ओबेरॉय भी हिंदी फिल्मों के जाने माने एक्‍टर हैं और उनकी एक बेटी मेघना ओबेरॉय हैं.

Tags: Actor, Bollywood actors, Bollywood news, Vivek oberoi



hindi.news18.com

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: hindi.news18.com

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related