Jammu-Kashmir में तेजी से भरे जा रहे हैं खाली पद, रोजगार मेलों के जरिये भी मिल रही हैं नौकरियां

Date:


एसएसबी अध्यक्ष राजेश शर्मा के मुताबिक पिछले साल के 9300 के आंकड़े के मुकाबले, इस साल विभिन्न सरकारी विभागों में 4500 पद भरे गये जिसमें से 3400 चतुर्थ श्रेणी के पद हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2020 में कुल 1500 पद भरे गए थे।

जम्मू-कश्मीर में बदले माहौल में सरकारी विभागों में तो लोगों को नौकरियां मिल ही रही हैं साथ ही युवाओं को स्वरोजगार के भी अनेकों अवसर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इसके अलावा विभिन्न जिलों में रोजगार मेलों के माध्यम से भी युवाओं की रुचि के अनुसार रोजगार के मौके दिये जा रहे हैं। साथ ही केंद्र शासित प्रदेश में विभिन्न जगहों पर कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से भी युवाओं के हुनर को निखारा जा रहा है ताकि वह अपने पैरों पर खड़े हो सकें।

जहां तक सरकारी नौकरियों की बात है तो आपको बता दें कि विभिन्न सरकारी विभागों में तीन साल में 15,000 से अधिक रिक्तियां भरी गईं हैं, जबकि 8,000 और पदों के लिए चयन प्रक्रिया जारी है। जम्मू-कश्मीर सेवा चयन बोर्ड (एसएसबी) के अध्यक्ष राजेश शर्मा ने हाल ही में यह जानकारी देते हुए यह भी बताया था कि भर्ती प्रक्रिया में देरी इसलिए भी हो जाती है क्योंकि जिनका चयन नहीं हो पाता या जो असंतुष्ट उम्मीदवार होते हैं उनकी ओर से अदालत में मुकदमे दायर कर दिये जाते हैं।

एसएसबी अध्यक्ष राजेश शर्मा के मुताबिक पिछले साल के 9300 के आंकड़े के मुकाबले, इस साल विभिन्न सरकारी विभागों में 4500 पद भरे गये जिसमें से 3400 चतुर्थ श्रेणी के पद हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2020 में कुल 1500 पद भरे गए थे। हम आपको बता दें कि दूसरे चरण में चतुर्थ श्रेणी के पदों के लिए चुने गए उम्मीदवारों को हाल ही में श्रीनगर में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और जम्मू में मुख्य सचिव अरुण के मेहता की अध्यक्षता में विशेष ‘रोजगार मेलों’ में नियुक्ति पत्र सौंपे गए थे। इससे पूर्व, पहले चरण के तहत, 5000 से अधिक योग्य उम्मीदवारों को पिछले साल नियुक्ति पत्र दिए गए थे। एसएसबी अध्यक्ष राजेश शर्मा ने कहा कि बोर्ड के पास 1600 कनिष्ठ सहायकों की सूची भी तैयार है। लेकिन, न्यायाधिकरण में लंबित मुकदमों के कारण इसे रोक दिया गया है।

दूसरी ओर, जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में रोज़गार मेला आयोजित किया। यह रोजगार मेला जिला रोजगार और परामर्श केंद्र, द्वारा टाउन हॉल अनंतनाग में आयोजित किया गया। इसमें सरकार के अलावा, स्वरोजगार को बढ़ावा देने वाले विभागों और विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित निजी नियोक्ताओं ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में नौकरी चाहने वालों की जबरदस्त प्रतिक्रिया देखी गई। कार्यक्रम में जिला अनंतनाग के बेरोजगार युवाओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया। अनंतनाग जिले के बेरोजगार युवाओं ने इस रोजगार मेले के आयोजन और नियोक्ताओं को उनके दरवाजे तक लाने के लिए जिला रोजगार एवं परामर्श केंद्र अनंतनाग का आभार व्यक्त किया।



www.prabhasakshi.com

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: www.prabhasakshi.com

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related