सावधान! फिर हो सकता है Corona Back, केंद्र ने राज्यों को दिया यह निर्देश

Date:


प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi

Image Source : AP
प्रतीकात्मक फोटो

Corona May Back in India: चीन और अमेरिका में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर भारत सरकार भी सतर्क हो गई है। केंद्र सरकार ने अधिक कोविड मामलों वाले राज्यों समेत अन्य राज्यों को भी सतर्क रहने का विशेष निर्देश जारी किया है। साथ ही सरकार ने कोविड गाइडलाइन का पूर्णतः पालन करने का भी आदेश दिया है। कोरोना ने इस वक्त चीन में हाहाकार मचा रखा है। वहां मरीजों को भर्ती करने के लिए जगह कम पड़ गई है। मरीजों की मौतों का आंकड़ा बढ़ने लगा है। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन फिर से कोविड को लेकर निरीक्षण करने में जुटा है। 

विश्व में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) और नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) को पत्र लिखकर आगाह किया है। साथ ही कोरोना के नए मामलों में जीनोम सिक्वेंसिंग करने को कहा है। उन्होंने राज्यों को कोविड गाइडलाइन का फिर से पालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है। विशेष तौर से ऐसे राज्यों को जहां कोरोना के मामले फिलहाल ज्यादा हैं। राज्यों को कहा गया है कि कोरोना के नए मरीजों का सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए वह उक्त दो केंद्रों पर भेजना शुरू कर दें। 

स्वास्थ्य मंत्री करेंगे रिव्यू बैठक


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया बुधवार को कोरोना को लेकर रिव्यू मीटिंग करने जा रहे हैं। इस दौरान कोरोना की गाइडलाइन पालन को लेकर फिर से यात्रियों के लिए दिशा-निर्देश जारी हो सकते हैं। विशेषकर हवाई यात्रियों, रेल व बस यात्रियों के लिए मास्क, सैनेटाइजर और कोविड की गाइडलाइन का पालन अनिवार्य किया जा सकता है।  कोविड टीकाकरण अभियान के हेड डा. एनके अरोड़ा ने लोगों को सतर्क रहने, किंतु खलबली नहीं मचाने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि भारत में पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है। सिर्फ लोगों को सतर्क रहना है। 

भारत में आ रहे हफ्ते में 1200 मामले

इससे पहले मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से वायरस के नए स्वरूप पर नजर रखने के लिए संक्रमित पाए गए नमूनों के जीनोम अनुक्रमण को बढ़ाने का आग्रह किया। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि इस तरह की कवायद देश में वायरस के नए स्वरूप का समय पर पता लगाने में सक्षम होगी और आवश्यक सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को सुनिश्चित करेगी। उन्होंने उल्लेख किया कि जांच-निगरानी-उपचार-टीकाकरण और कोविड-उपयुक्त व्यवहार के पालन की रणनीति पर ध्यान केंद्रित करने के साथ भारत कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को सीमित करने में सक्षम रहा है और साप्ताहिक आधार पर लगभग 1,200 मामले सामने आ रहे हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





www.indiatv.in

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: www.indiatv.in

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related