जयराम रमेश ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों से देश के टूटने की आशंका बढ़ रही है

Date:


उन्होंने ‘‘आर्थिक विषमता बढ़ने और धर्म, जाति और के आधार पर ध्रुवीकरण’’ को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार की आलोचना की। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव (संचार) रमेश ने यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस से अक्सर पूछा जाता है कि जब देश को कोई तोड़ नहीं रहा, तो ‘भारत जोड़ो यात्रा’ क्यों निकाली जा रही है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी सरकार की मंशा और नीतियों के कारण देश के टूटने की आशंका बढ़ रही है।
उन्होंने ‘‘आर्थिक विषमता बढ़ने और धर्म, जाति और के आधार पर ध्रुवीकरण’’ को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार की आलोचना की।
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव (संचार) रमेश ने यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस से अक्सर पूछा जाता है कि जब देश को कोई तोड़ नहीं रहा, तो ‘भारत जोड़ो यात्रा’ क्यों निकाली जा रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह साफ तौर से कहना चाहता हूं कि देश के टूटने का स्पष्ट खतरा है। मोदी सरकार की नीतियों और मंशा के कारण भारत के टूटने की आशंका बढ़ रही है।’’
उन्होंने कहा, ‘‘पहला यह कि कि आर्थिक विषमता बढ़ रही है… मुद्रास्फीति, बेरोजगारी, गलत तरह से जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) लगाना, सत्ता का केंद्रीकरण, अर्थव्यस्था पर एक या दो पूंजीपतियों का नियंत्रण। आर्थिक विषमता बढ़ रही है और इसके कारण भारत के टूटने की आशंका भी बढ़ रही है।’’
‘भारत जोड़ो यात्रा’ के हरियाणा चरण के दौरान रमेश कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ थे।

यात्रा ने बुधवार सुबह हरियाणा राज्य में प्रवेश किया। इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ) और भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) की विचारधारा हमेशा से विभाजनकारी रही है और उनके लिए सामाजिक ध्रुवीकरण चुनाव जीतने की रणनीति रही है।
रमेश ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार संवैधानिक संस्थानों को कमजोर कर रही है।
उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीतिक तानाशाही अब एक वास्तविकता बन चुकी है और संविधान को नजरअंदाज किया जा रहा है।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है और सरकार एवं न्यायपालिका के बीच तनाव पैदा किया जा रहा है।
रमेश ने प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि यात्रा किसी एक व्यक्ति के ‘मन की बात’ नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री और प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा सभी संस्थाओं को अपने कब्जे में लेने का प्रयास किया जा रहा है।
कांग्रेस महासचिव ने कहा कि यात्रा का वर्ष 2023 और 2024 के चुनाव से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी ने ऐलान किया था कि यह ‘चुनाव जीतो’ या ‘चुनाव जिताओ’ यात्रा नहीं है।

हरियाणा की भाजपा-जजपा (जननायक जनता पार्टी) सरकार पर हमला बालते हुए रमेश ने कहा कि बुधवार सुबह नूंह में जहां से यात्रा शुरू हुई, वहां से 14 किलोमीटर तक की सड़क पर 350 से अधिक गड्ढे थे। उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने यहां सड़कों की जितनी खराब स्थिति देखी, वैसी किसी अन्य राज्य में नहीं देखी। राज्य में भाजपा आठ साल से सत्ता में है और आज हम सड़कों पर नहीं, गड्ढों पर चले। ’’
रमेश ने यह भी कहा कि कांग्रेस इस यात्रा की सफलता को आगे बढ़ाते हुए एक अन्य अभियान ‘हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा’ 26 जनवरी से 26 मार्च तक निकालेगी। उन्होंने कहा कि इस अभियान में यात्रा प्रखंड और बूथ स्तर पर निकाली जाएगी।

उन्होंने कहा कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान जनता के समक्ष ‘असली’ राहुल गांधी दिखे।
रमेश ने कहा कि राहुल गांधी यात्रा के हरियाणा चरण में किसानों और खिलाड़ियों से मिलेंगे।
कांग्रेस की हरियाणा इकाई के नेताओं के बीच खींचतान के सवाल पर कांग्रेस नेता और पार्टी के हरियाणा मामलों के प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कुमारी शैलजा और रणदीप सिंह सुरजेवाला यात्रा में राहुल के साथ चल रहे थे और पार्टी में कोई गुटबाजी नहीं है। उन्होने कहा कि कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र है, लेकिन कोई अनुशासन नहीं तोड़ता जिस पर उन्हें गर्व है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।





www.prabhasakshi.com

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by The2ndPost. Publisher: www.prabhasakshi.com

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related